हरियाणा सीएम मनोहर लाल खट्टर

चंडीगढ़, मनीष कुमार : हरियाणा प्रदेश में युवाओं को हरियाणा सरकार दिसंबर तक 60 हजार सरकारी नौकरियों की सौगात देने जा रही है जिसकी घोषणा हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने की। आपको बता दें  कि इन 60 हजार में से 41 हजार 217 पदों पर भर्ती प्रक्रिया पहले से ही चल रही है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत 50 हजार लोगों को स्वरोजगार के लिए सहायता राशि उपलब्ध कराई गई है।

मनोहर लाल खट्टर

गोरतलब है कि, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को विशेष चर्चा कार्यक्रम के दौरान आडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के एक लाख रुपये से कम वार्षिक पारिवारिक आय वाले युवाओं से संवाद में कहा कि “हमारा लक्ष्य हर युवा को रोजगार से जोड़ने का है। राज्य सरकार ने युवाओं के स्वाभिमान की रक्षा के लिए सरकारी नौकरियों को मिशन मेरिट में बदला है। पिछले नौ सालों में युवाओं को योग्यता के आधार पर बिना खर्ची- पर्ची के एक लाख 10 हजार से अधिक सरकारी नौकरियां देकर उनका मनोबल बढ़ाया है। इस दौरान निजी क्षेत्र में भी 47 लाख 40 हजार से अधिक युवाओं को रोजगार मिला है।”

 

ये भी पढ़ें:- India Mobile Congress 2023: प्रगति मैदान में चलने वाले तीन दिवसीय तकनीकी प्रदर्शनी का हुआ शुभारंभ

 

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि, पिछली सरकारों से ज्यादा वर्तमान सरकार के कार्यकाल में सरकारी भर्तियां हुई हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला की सरकार में वर्ष 1999 से 2005 तक हरियाणा लोक सेवा आयोग व हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की ओर से 15 हजार 125 भर्तियां की गई थी। इसी तरह पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा की सरकार में 2005 से 2014 तक 86 हजार 067 भर्तियां हुई थी, जबकि वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल के दौरान 2014 से 2023 तक कुल एक लाख 14 हजार 210 भर्तियां की गई हैं।

उन्होंने आगे कहा कि, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा कहते हैं कि उन्होंने अपने कार्यकाल में 35 हजार अध्यापकों की भर्ती की है। उन्होंने नौकरी लगाने का प्रयत्न किया गया होगा, लेकिन उनके सिस्टम इतने खराब थे कि न्यायालय ने भर्तियां रद कर दी। कांग्रेस ने गेस्ट टीचर की भर्ती की, लेकिन उन्हें जाब सिक्योरिटी हमने दी, ताकि रिटायरमेंट तक उनकी नौकरी सुरक्षित रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश के उन परिवारों के युवाओं को नौकरियों में प्राथमिकता दी है, जिनको इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है। मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत सुनिश्चित किया जा रहा है कि एक लाख रुपये वार्षिक से कम आय वाले परिवारों के युवाओं को उनकी योग्यता के आधार पर हरियाणा कौशल रोजगार निगम के माध्यम से रोजगार दिया जाए।

 

अधिक खबरों के लिए जुड़े रहें हरियाणा की खबर के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *