चंडीगढ़: आखिर हरियाणा को अपना नया डीजीपी मिल ही गया जो हैं, हरियाणा के सन 1990 बैच के सीनियर आइपीएस अधिकारी शत्रुजीत कपूर जिन्हे प्रदेश का नया पुलिस महानिदेशक बनाया गया है। गौरतलब है कि मौजूदा पुलिस महानिदेशक पीके अग्रवाल मंगलवार को रिटायर हो चुके थे। जिनके तुरंत बाद ही पुलिस महानिदेशक के पद पर शत्रुजीत कपूर की नियुक्ति के आदेश जारी किए गए। आदेश पास होने के तुरंत बाद ही कपूर ने कार्यभार ग्रहण किया और शाम को मीडिया से बातचीत में प्राथमिकताएं भी बताई।

 

आपको बता दें कि कपूर अभी तक एंटी करप्शन ब्यूरो के महानिदेशक पद पर कार्यरत रहे हैं और इनकी रिटायरमेंट 31 अक्टूबर 2026 को है। तथा उनकी नियुक्ति के बाद प्रदेश में होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव शत्रुजीत कपूर की ही देखरेख में होंगे। उन्हें तेजतर्रार आइपीएस अधिकारी माना जाता है।

कपूर एक आइपीएस अधिकारी हैं लेकिन फिर भी वे आइएएस कैडर के विभिन्न पदों पर कार्यरत रहे हैं। इनके अलावा उनकी गिनती मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के विश्वासपात्र अधिकारियों में होती है। इन सबके अलावा ये बिजली निगमों के चेयरमैन तथा परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव भी रह चुके हैं, जो कि आइएएस कैडर के अधिकारियों के पद हैं। शत्रुजीत ने एंटी करप्शन ब्यूरो के महानिदेशक पद पर भी थे।

 

जिसके दौरान उन्होंने कई भ्रष्ट अधिकारियों व कर्मचारियों को पकड़ा। आपको बताया दें कि इनके अलावा 2 और अधिकारी हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बनने कि रेस में शामिल थे जिसमे से उन्होंने केंद्रीय लोकसेसवा आयोग के पैनल में शामिल 1989 बैच के आइपीएस मोहम्मद अकील और डा. आरसी मिश्रा को पछाड़ते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल का भरोसा जीतते हुए यह पद हासिल किया।

 

अधिक जानकारी के लिए जुड़े रहें हरियाणा की खबर के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *