अयोध्या, 27 सितंबर : देश में अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर के निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार मंदिर का गर्भ गृह तैयार हो चुका है जिसके बाद अब प्राण प्रतिष्ठा का इंतजार है। जोकि राम लला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा 2024 जनवरी में होने वाली है।

https://gumlet.assettype.com/Prabhatkhabar%2F2021-08%2F8e791a39-917a-4931-ac84-42dfaf571771%2FUntitled.jpg?rect=0%2C165%2C3028%2C1703&format=webp&w=400&dpr=2.6

जिसमें अब 4 महीने से भी कम वक्त बचा है। ऐसे में काम और तैयारियों जोरों पर हैं। इसके साथ ही गेस्ट लिस्ट भी तैयार हो रही है। तथा सूत्रों का कहना है कि, इस समारोह को खास बनाने का हर संभव प्रयास किये जा रहे है जानकारी के अनुसार इसके तहत सभी जातियों के संतों और नेताओं को आमंत्रित किया जाएगा। आयोजन के लिए जो गेस्ट लिस्ट तैयार की जा रही है, वह श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से जुड़े लोगों द्वारा यह लिस्ट तैयार की जा रही है इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी अतिथियों की सूची में रहेंगी।

 

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राखी गई थी आधारशिला-

Ayodhya: Prime Minister Narendra Modi

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद ही पीएम नरेंद्र मोदी ने अगस्त 2020 में राम मंदिर का शिलान्यास किया था। जिसके बाद इस बार भी वह मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद रहेंगे। तथा उनके अलावा उम्मीद की जा रही है कि करीब 6 से 8 हजार मेहमान और भी होंगे।

ट्रस्ट के जनरल सेक्रेटरी चंपत राय ने कहा, ‘हमारी कोशिश है कि हिंदू समाज से जुड़ी सभी परंपराओं के संतों को बुला जाए। इसके अलावा सभी बिरादरियों के लोगों की इसमें सहभागिता रहे।’ उन्होंने कहा कि मेहमानों की सूची अलग-अलग लोग तैयार कर रहे हैं। अनुमान है कि इस आयोजन में करीब 8000 लोग शामिल हो सकते हैं।

हालांकि अभी राम मंदिर के उद्घाटन की तारीख तय नहीं है, लेकिन 15 से 24 जनवरी के दौरान किसी भी दिन यह आयोजन हो सकता है। चंपत राय ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी से टाइम लेने के बाद ही तारीख तय की जाएगी। केंद्र सरकार की पहल पर ही राम मंदिर ट्रस्ट का गठन किया गया था, जो निर्माण का काम देख रहा है। खबर है कि मकर संक्रांति के बाद 10 दिन का आयोजन होगा, जिसमें ‘प्राण प्रतिष्ठा’ की जाएगी। इस बीच कमेटी के चेयरपर्सन नृपेंद्र मिश्र का कहना है कि यह आयोजन 22 जनवरी को हो सकता है। लेकिन अभी पीएमओ की ओर से तारीख तय होना बाकी है। उसके बाद ही फैसला लिया जाएगा।

 

अधिक खबरों के लिए जुड़े रहें हरियाणा की खबर के साथ

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *