अंबाला, 27 सितंबर :  जनता जननायक पार्टी की ओर से पूर्व उप प्रधानमंत्री ताऊ देवीलाल की जंयती पर राजस्थान के सीकर में रैली का आयोजन किया गया, जिसको लेकर अब अंबाला में सियासी घमासान मच गया है। मामला कुछ इस प्रकार है कि, बलदेव नगर और मॉडल टाउन की कुछ महिलाओं द्वारा जजपा पर खाटू श्याम के दर्शन करने के बहाने सीकर हो रही उनकी रैली में लाने जाने के आरोप लगाए हैं।

जिसपर प्रतिक्रिया देते हुए जजपा की महिला विंग ने उन महिलाओं द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए सफाई देते हुए जजपा की महिला प्रधान सरबजीत कौर ने कहा कि “अपोजिशन उनके विस्तार से बौखला चुका है, जिस कारण उन्हें बदनाम किया जा रहा है। यह लोगों की आस्था के साथ खिलवाड़ नहीं बल्कि अपोजीशन और उनके चेले चपटों की सोची समझी चाल है। हमने ये जरूर कहा था कि समय रहा तो खाटू श्याम दर्शन जरूर कराएंगे, वो कराए भी हैं।”

ये भी पढ़ें:- https://haryanakikhabar.com/in-ayodhya-ram-mandir-inauguration-invitationguest-list-will-include-all-leaders-of-all-caste/

पार्टी की छवि को धूमिल करने की कोशिश की जा रही: सरबजीत

जेजेपी की महिला प्रधान सरबजीत कौर ने कहा कि “उनकी छवि धूमिल करने की कोशिश की गई है। जजपा पदाधिकारियों ने सीधे तौर पर भाजपा विधायक को भी घेरा है। उन्होंने आगे कहा अगर हम महिलाओं को खाटू श्याम की कहकर लेकर गए थे तो उन्हें अपने जेजेपी पार्टी के ऑफिस में क्यों लेकर जाते। वहां भी ताऊ देवी लाल के नारे लगाते हुए एसी बसों में बैठे थे। कहा उन्हें दिखाई नहीं दिया कि हम खाटू श्याम जा रहे हैं या रैली में।”

दरअसल, एक वेब चैनल पर बलदेव नगर व मॉडल टाउन निवासी मीनू व पंकज शर्मा समेत अन्य महिलाओं ने प्रतिक्रिया देते हुए जजपा पर गुमराह करने के आरोप लगाते हुए कहा था कि, उन्हें खाटू श्याम और सालासर धाम के फ्री दर्शन कराने के नाम पर झूठ बोलकर रैली में लेकर गए। उन्होंने आरोप लगाया था कि जजपा नेत्री राजेश ने उनसे मात्र 100-100 रुपए प्रति व्यक्ति के खर्च पर खाटू श्याम जी और सालासर धाम ले जाने की बात कही थी। जिसके बाद वे सब गईं थी।

 

अधिक खबरों के लिए जुड़े रहें हरियाणा की खबर के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *