Operation ajay

नई दिल्ली, मनीष कुमार (Operation Ajay In Israel): इजराइल इस व्यक्त युद्ध में है ऐसी स्थिति में वहाँ रह रहे हर देश अपने नागरिकों को लेकर चिंतित है। इनमे से कुछ अपने नागरिकों को वहाँ से निकालने मे लगे हुए है जबकि कई देश अभी इंतजार में है कि इजरायल में सब सही हो जाए। ऐसे में भारत ने इजराइल में रह रहे भारतीय नागरिकों को सुरक्षित वापस लाने के लिए ‘Operation Ajay‘ को शुरू किया जिसके तहत विशेष उड़ान सीधे दिल्ली से इजराइल की राजधानी तेल अवीव के लिए शुरू की गई।

Operation Ajay

इसी Operation Ajay के तहत इजराइल से दिल्ली पहुंची खास उड़ान जिसमें दो नवजात शिशुओं सहित कुल 235 भारतीय नागरिक सवार थे। ताजा जारी विडिओ में देखा जा सकता है जिसमें वे ‘वंदे मातरम्’ के नारे लगा रहे हैं। आपको बताया दें कि ऑपरेशन अजय के तहत इससे पहले शुक्रवार को भी एक फ्लाइट 212 यात्रियों को लेकर दिल्ली पहुंची थी जिसके बाद यह दूसरी फ्लाइट आई है।

अभी भी जारी है भारत का ‘Operation Ajay’

इस अभियान के तहत इस फ्लाइट ने इजराइल के स्थानीय समयानुसार रात 11 बजकर 2 मिनट पर उड़ान भरी। इसके अलावा भी भारतीय नागरिकों को इजराइल से निकालने का काम रविवार को भी जारी रहेगा। इसी को लेकर ईजराइल में स्थित भारतीय दूतावास ने एक्स पर घोषणा पोस्ट करते हुए कहा, ‘दूतावास ने आज विशेष उड़ान के लिए पंजीकृत भारतीय नागरिकों के अगले जत्थे को रवाना कर दिया है। बाद की उड़ानों के लिए अन्य पंजीकृत लोगों को संदेश भेजा जाएगा।’

 

ये भी पढ़ें:- हमास-फिलीस्तीन के बाद इजराइल ने सीरिया के खिलाफ खोल दिया मोर्चा, 2 एयरपोर्ट्स पर दाग डाले रॉकेट

 

गौरतलब है कि भारतीय सरकार के ‘ऑपरेशन अजय’ के तहत पहली चार्टर उड़ान, 212 भारतीय नागरिकों को लेकर शुक्रवार की सुबह दिल्ली हवाई अड्डे पर उतरी थी। इस मिशन के तहत सभी भारतीयों को पंजीकृत करने के लिए भारतीय दूतावास द्वारा शुरू किए गए “पहले आओ पहले पाओ” अभियान में चयन के आधार पर किया गया है।  यहाँ आपको यह भी बता दें कि इन सभी भारतीयों की इजराइल से भारत वापसी का पूरा खर्च भी भारत सरकार ही उठा रही है।

https://www.mangalam.com/uploads/thumbs/imagecache/600x361/uploads/news/2023/10/663434/israel.gif

भारत वापसी करने पर इलान यूनिवर्सिटी में अध्ययनरत एक रिचर्सर ने ‘ऑपरेशन अजय’ के लिए भारत सरकार को धन्यवाद देते हुए कहा,’मैं वास्तव में इजरायल में युद्ध की स्थिति से हमें निकालने के लिए भारत सरकार को धन्यवाद देना चाहता हूं… हमारी सरकार ने ‘ऑपरेशन अजय’ के तहत हमें ऐसी स्थिति से निकाला है, जहां हालात बेहद मुश्किल थे। ‘

18 हजार से ज्यादा भारतीय हैं इजराइल में

आपको बता दें कि इज़रायल में भारतीयों कि संख्या लगभग 18,000 से अधिक है जो वहाँ रहते और काम करते हैं, जिनमें देखभाल करने वाले, छात्र, कई आईटी पेशेवर और हीरा व्यापारी शामिल हैं। 7 अक्टूबर को गाजा पट्टी में स्थित सशस्त्र हमास लड़ाकों ने जल, थल और आकाश से इजरायली सुरक्षा घेरे को तोड़कर कई लोगों को मौत के घाट उतार दिया था, जिसके बाद भारतीय नागरिकों को निकालना जरूरी हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *